,

Ambadker Yugpurush


महात्मा बुद्ध के बाद यदि किसी महापुरूष ने धर्म, समाज, राजनीति और अर्थ के धरातल पर सामाजिक क्रांति से साक्षात्कार कराने की सार्थक कोशिश की तो वह थे-डॉ॰ भीमराव अम्बेडकर। सूर्य-सा उनका तेजस्वी चरित्र, चंद्र-सा सम्मोहक व्यवहार, ऋषियों-सा गहन गम्भीर ग्यान, संतो-सा उत्सर्ग-बल और शांत स्वभाव उनके चरित्र के विभिन्न पहलू थे। उन्होंने अपना सारा जीवन समाज के उपेक्षित, दलित, शोषित और निर्बल वर्गों को उन्नत करने में लगा दिया था।
सच्ची घटनाओं पर आधारित, यह जीवनीपरक उपन्यास वर्तमान पीढ़ी को निराशा और दिशाहीन की स्थिति से ऊपर उठाकर एक जीवंत चेतन धारा से जोड़ने की दिशा में विशेष भूमिका निभाएगा।
‘युगपुरुष अंबेडकर’ के लेखक राजेन्द्र मोहन भटनागर हिंदी के सुपरिचित और सुप्रतिष्ठित लेखक हैं। अनेक महान पुरुषों की जीवनियां प्रस्तुत कर वे जीवनी-विधा को भी समृद्ध करते रहे हैं। यह उनकी विशिष्ट कृति है।

Rs.375.00

Best Seller Rank

#1 in Rajpal and Sons (See Top 100 in Rajpal and Sons)
#48 in जीवनी/आत्मकथा/संस्मरण (See Top 100 in जीवनी/आत्मकथा/संस्मरण)
Weight .350 kg
Dimensions 8.57 × 5.51 × 1.57 in

Publisher- Rajpal And Sons
Author – Rajendra Mohan Bhatnagar
Lang. – Hindi
Binding – PB

Based on 0 reviews

0.0 overall
0
0
0
0
0

Only logged in customers who have purchased this product may leave a review.

There are no reviews yet.