, , ,

Shudra Kaun The : Awalokan aur Samiksha


‘शूद्र कौन थे’ पुस्तक की रचना डॉ. ऑम्बेडकर जी ने अंग्रेज इतिहासकारों द्वारा लिखे गये भारत के झूठे इतिहास और प्रंपचों के विरुद्ध की थी। पुस्तक में उन्होंने ‘शूद्र निम्न नहीं थे, मीनियल नहीं थे,’ यह प्रमाणित करने की कोशिश की है। इस पुस्तक में वस्तुत: उनको, उनको उन झूठे अंग्रेज इतिहासकारों को निशाने पर लेना था, जिन्होंने आर्यन, इन्डो आर्यन और एबॉरिजिन्स (मूल निवासी) जैसी झूठी और आधारहीन परिकल्पनाओं की रचना की, न कि ब्राह्मणों और उनके द्वारा रचित ग्रंथों को दोषी प्रमाणित करने का कार्य करना चाहिए था, जिसके कारण आज सामाजिक और राष्ट्रीय एकता की सुरक्षा को खतरा पैदा हो रहा है।

Rs.300.00

Best Seller Rank

#1 in Anamika Prakashan (See Top 100 in Anamika Prakashan)
#15 in इतिहास (See Top 100 in इतिहास)
#19 in राजनीति, पत्रकारिता और समाजशास्त्र (See Top 100 in राजनीति, पत्रकारिता और समाजशास्त्र)
#15 in सही आख्यान (True narrative) (See Top 100 in सही आख्यान (True narrative))

Author: Dr. Tribhuwan Singh

Weight .200 kg
Dimensions 8.7 × 5.51 × 1.57 in

Author: Dr. Tribhuwan Singh
Publisher: Anamika Prakashan ; 4th संस्करण (1 जनवरी 2019)
Binding: PB
ISBN: 9788187770671

Based on 0 reviews

0.0 overall
0
0
0
0
0

Only logged in customers who have purchased this product may leave a review.

There are no reviews yet.