, ,

Italy ke Mahatma Guisep Mejini ka Jivan Charit


बहुत कम लोगों को इस बात की जानकारी होगी कि लाला लाजपतराय को देश के लिए कुछ करने की प्रेरणा इटली को स्वाधीनता दिलाने वाले और अपनी मातृभूमि को यूरोप की तत्कालीन साम्राज्यवादी शक्तियों के पंजे से छुड़ाने वाले महापुरुषों-गैरीबाल्डी तथा मेजिनी से मिली थी।
यह जीवन-वृतांत इटली के पूजनीय माने जाने वाले महात्मा ग्वीसेप मेजिनी का है, जिन्होंने सैकड़ों वर्षों से चली आ रही दासता के खिलाफ आंदोलन शुरू किया तथा अपने देशवासियों को स्वतंत्रता प्राप्त करने का मार्ग दिखाया।
अपने देशवासियों को इन महापुरुषों की जीवनगाथा तथा कार्यों से परिचित कराने वाले प्रथम लेखक लालाजी ही थे। तत्कालीन ब्रिटिश शासकों को इस बात की आशंका थी कि स्वदेश की आजादी के लिए सर्वस्व त्याग करने वाले इन वीरों की गाथाएं कहीं भारतवासियों में भी आजादी की तड़प पैदा ना कर दे, इसलिए लालाजी द्वारा लगभग 100 वर्ष पहले लिखें गए इन जीवन चरितों को गौरी सरकार ने जप्त कर लिया था।

Rs.135.00

इटली के महात्मा ग्वीसेप मेजिनी का जीवन चरित

Weight .220 kg
Dimensions 8.7 × 5.51 × 1.57 in

Author : Lala Lajpat Rai
Editor : Dr. Bhawanilal Bhartiya
Publisher : Govindram Hasanand
Language : Hindi
ISBN : 9788188529329
Binding : (HB)
Edition : 2006
Pages : 132

Based on 0 reviews

0.0 overall
0
0
0
0
0

Only logged in customers who have purchased this product may leave a review.

There are no reviews yet.

0:00
0:00