, ,

Chhatrapati Shivaji


मराठा वीर शिवाजी ने किस प्रकार औरंगजेब की कट्टरवादी-संकीर्ण नीतियों का विरोध किया और अपने समकालीन स्वच्छाचारी शासकों से लोहा लिया, इसे लालाजी ने ऐतिहासिक तथ्यों से प्रमाणित किया है। महाकवि भूषण के शब्दों में-हिंदू, हिंदी और हिंद के रक्षक शिवाजी महाराज की स्फूर्तिदायक जीवनी के लेखन की पात्रता लालाजी जैसे देशभक्त में ही थी।
छत्रपति शिवाजी के इस जीवन चरित का ऐतिहासिक महत्व तो है ही जिसकी समीक्षा तो मराठा इतिहास के प्रमाणिक विद्वान् ही करेंगे, तथापि सर्वसाधारण को शिवाजी महाराज की एक सुंदर झांकी भी मिलेगी, इस विश्वास के साथ इस ग्रंथ को पाठकों के समक्ष प्रस्तुत किया जा रहा है।

Rs.50.00

Best Seller Rank

#14 in Govindram Hasanand Prakashan (See Top 100 in Govindram Hasanand Prakashan)
#26 in अन्य कथेतर साहित्य (See Top 100 in अन्य कथेतर साहित्य)
#49 in जीवनी/आत्मकथा/संस्मरण (See Top 100 in जीवनी/आत्मकथा/संस्मरण)

छत्रपति शिवाजी

Weight .140 kg
Dimensions 7.87 × 4.9 × 1 in

Author : Lala Lajpat Rai
Editor : Dr. Bhawanilal Bhartiya
Publisher : Govindram Hasanand
Language : Hindi
ISBN : 9788170770817
Binding : (PB)
Edition : 2013
Pages : 124

Based on 0 reviews

0.0 overall
0
0
0
0
0

Only logged in customers who have purchased this product may leave a review.

There are no reviews yet.