, ,

Chanakyaniti Darpan


स्वामी जगदीश्वरानंद जी द्वारा चाणक्यनीति दर्पण ग्रंथ का हिंदी अनुवाद पढ़ने को मिला। चाणक्य का नाम भारतीय साहित्य में राजनीति के लिए भी प्रसिद्ध है। परंतु प्रस्तुत ग्रंथ में व्यवहार-नीति का वर्णन अधिक है। राजनीति का नहीं। यही कारण है कि जन-साधारण के लिए अपने जीवन मे किस तरह व्यवहार करना चाहिए-इसके लिये यह ग्रंथ अत्यंत महत्वपूर्ण है। पुस्तक इतनी हृदयग्राही है कि पढ़ते-पढ़ते छोड़ने का मन नहीं करता। इसमें केवल चाणक्यनीति के श्लोक ही नहीं दिए गए, जगह-जगह उस विचार को पुष्ट करने वाले अन्य ग्रंथों के भी श्लोक दिए गए हैं, जो पाठाक की रुचि को बनाये रखते हैं।
एक प्रकार से जीवन का पथ प्रदर्शन करनेवाले मुहावरों से युक्त इस पुस्तक का प्रत्येक श्लोक जीवन को कोई दिशा देता है। स्वामी जगदीश्वरानंद वैदिक एवं संस्कृत साहित्य के अगाध पंडित हैं और उनका यह पांडित्य पुस्तक के प्रत्येक पृष्ठ और प्रत्येक पृष्ठ के प्रत्येक श्लोक में झलकता है। यह एक तरह से सुभाषितों का विषकोश है। -सत्यव्रत सिद्धांतलंकार

Rs.150.00

चाणक्यनीति दर्पण

Weight .300 kg
Dimensions 8.7 × 5.51 × 1.57 in

Author : Swami Yogeshwaranand Saraswati
Publisher : Govindram Hasanand
Language : Hindi
ISBN : 9788170770459
Binding : (PB)
Edition : 2018
Pages : 288

Based on 0 reviews

0.0 overall
0
0
0
0
0

Only logged in customers who have purchased this product may leave a review.

There are no reviews yet.